ads banner
ads banner
क्रिकेट न्यूज़विशेष न्यूज़Unlucky Captains in Cricket: क्रिकेट इतिहास के 5 बदकिस्मत कप्तान

Unlucky Captains in Cricket: क्रिकेट इतिहास के 5 बदकिस्मत कप्तान

क्रिकेट न्यूज़: Unlucky Captains in Cricket: क्रिकेट इतिहास के 5 बदकिस्मत कप्तान

Unlucky Captains in World Cricket: एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम का नेतृत्व अपने आप में गौरवांवित होना है। पिछले कुछ दशकों में, हमने ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग, भारत के MS धोनी और पाकिस्तान विश्व कप विजेता टीम के कप्तान ‘इमरान खान’ जैसे कई सफल कप्तान देखे हैं। रिकी पोंटिंग के बाद कप्तान कूल एमएस धोनी को दुनिया का सबसे सफल कप्तान माना जाता है।

लेकिन दूसरी ओर कुछ दुर्भाग्यशाली कप्तान ऐसे भी थे जो अपनी टीम के लिए गौरव हासिल करने के बहुत करीब थे, लेकिन फिर भी इससे दूर रहे। इस प्रकार नीचे वर्ल्ड क्रिकेट के इतिहास में पांच सबसे दुर्भाग्यशाली कप्तानों (Unlucky Captains in World Cricket)

1) केन विलियमसन (न्यूज़ीलैंड)

कोई भी 2019 क्रिकेट विश्व कप के असाधारण ग्रैंड फिनाले को नहीं भूल सकता है, जहां दुर्भाग्यपूर्ण न्यूजीलैंड ने केवल बाउंड्री काउंट के आधार पर ट्रॉफी से किनारा कर लिया है। केन विलियमसन कीवी टीम का नेतृत्व कर रहे थे और यह विश्व कप के फाइनल में न्यूजीलैंड की लगातार दूसरी उपस्थिति थी।

सुपर ओवर के टाई होने के बाद बाउंड्री के आधार पर परिणाम घोषित किया गया और इंग्लैंड ने अधिक तेज चिप्स मारने के कारण ट्रॉफी जीती। ICC टी20 वर्ल्ड कप 2021 के फाइनल में भी नजारा काफी कुछ ऐसा ही था, ऑस्ट्रेलिया की टीम ने कीवियों को एकतरफा तरीके से हरा दिया था और विलियमसन को फिर से टूर्नामेंट के कड़े मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था.

2) सौरव गांगुली (भारत)

असफल कप्तानों (Unlucky Captains in World Cricket) में भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का भी नाम है। गांगुली अपने पांच साल के नेतृत्व के दौरान कई मौकों पर दुर्भाग्यशाली साबित हुए हैं।

उनमें से सबसे उल्लेखनीय घटना 2003 विश्व कप का ग्रैंड फिनाले था, जहां भारतीय पक्ष को ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 125 रनों के अंतर से बेरहमी से हराया था। यह विश्व कप हार भी एक कारण था कि उन्हें वर्ष 2005 में राहुल द्रविड़ के हाथों अपनी नेतृत्व क्षमता खोनी पड़ी थी। इस कारण गांगुली अपने पूरे कप्तानी करियर में ICC इवेंट्स में कोई भी ट्रॉफी हासिल नहीं कर सके।

3) महेला जयवर्धने (श्रीलंका)

महेला जयवर्धने सूची में तीसरे स्थान पर अपना नाम रखते हैं क्योंकि उन्हें सौरव गांगुली की तरह ही अपनी कप्तानी गंवानी होगी। श्रीलंकाई टीम का ICC विश्व कप 2007 में एक महान रिकॉर्ड है जहां वे टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचे लेकिन भारत के मामले के समान ही उन्होंने इसे रिकी पोंटिंग की अगुवाई वाली टीम ऑस्ट्रेलिया के हाथों खो दिया।

इस आपदा के बाद श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड ने टीम में नेतृत्व की स्थिति में फेरबदल करने का फैसला किया है और विकी-बल्लेबाज कुमार संगकारा को टीम की सबसे व्यस्त भूमिका दी गई है।

4) ब्रेंडन मैकुलम (न्यूजीलैंड)

Unlucky Captains in World Cricket: ब्रेंडन मैकुलम, जो वर्तमान में अंग्रेजी पुरुषों की टेस्ट टीम के मुख्य कोच हैं, उन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विश्व कप 2015 के फाइनल में तबाही का सामना करना पड़ा। दिग्गज डेनियल विटोरी के जाने के बाद से मैकुलम टीम का नेतृत्व कर रहे हैं, लेकिन आईसीसी विश्व कप 2015 की खराब यात्रा के कारण उनका नेतृत्व खो गया है।

वह इस सूची में दूसरे कीवी कप्तान हैं जिनका क्रिकेट करियर टीम के कप्तान के रूप में पेशे के सबसे महत्वपूर्ण चरण में एक बड़ी गलती करने के बाद अधर में आ गया है।

5) इंजमाम-उल-हक (पाक)

इंजमाम उल हक इतिहास में एकमात्र पाकिस्तान कप्तान हैं क्योंकि विश्व कप 2007 में पाकिस्तान की ओर से तूफानी पारी ने उनकी आखिरी गलती साबित कर दी थी। वह पहले से ही अपने सबसे बड़े समर्थक कोच बॉब वूल्मर की रहस्यमय मौत के बाद कमजोर कगार पर फंसे हुए थे।

इस तबाही के बाद उम्मीद के मुताबिक पीसीबी ने उन्हें एक और मौका नहीं दिया और कप्तानी उनके हाथों से छीन ली। बाद में लंबे समय के लिए शाहिद अफरीदी को टीम की कमान सौंपी गई।

ये भी पढ़ें: Most Expensive Spells in ODI | वनडे में किसी गेंदबाज के 3 सबसे महंगे स्पैल

Ankit Singh
Ankit Singhhttps://crickethighlightnews.com/
मैं एक क्रिकेट समाचार रिपोर्टर और लेखक हूं। मुझे क्रिकेट के बारे में लिखना और दुनिया के साथ अपना ज्ञान साझा करना अच्छा लगता है।

क्रिकेट हिंदी लेख

नवीनतम क्रिकेट न्यूज़